Read India Prime Minister's Tweets

May the thoughts of Lord Buddha further brightness, togetherness and brotherhood.

May his blessings inspire us to do good: PM @narendramodi

We want to focus on connectivity to Buddhist sites.

A few days back the Indian cabinet announced that Kushinagar airport will be an international one.

This would bring so many people, pilgrims and tourists: PM @narendramodi

Today the world fights extra-ordinary challenges.

To these challenges, lasting solutions can come from the ideals of Lord Buddha.

They were relevant in the past.

They are relevant in the present.

And, they will remain relevant in the future: PM @narendramodi

Bright young minds are finding solutions to global problems.

India has one of the largest start-up
eco-systems.

I would urge my young friends, to also stay connected with the thoughts of Lord Buddha.

They will motivate and show the way ahead: PM @narendramodi

I am very hopeful about the 21st century.

This hope comes from my young friends.

Our youth.

If you want to see a great example of how hope, innovation and compassion can remove suffering, it is our start-up sector led by our youth: PM @narendramodi

In his very first sermon in Sarnath,

And his teachings
after that,

Lord Buddha spoke on two things- hope and purpose.

He saw a strong link between them.

From hope comes a spirit of purpose: PM @narendramodi

Buddhism teaches respect.

Respect for people.

Respect for the poor.

Respect for women.

Respect for peace and
non-violence.

Therefore, the teachings of Buddhism are the means to a sustainable planet: PM @narendramodi

The eight-fold path of Lord Buddha shows the way towards the well-being of many societies and nations.

It highlights the importance of compassion and kindness.

The teachings of Lord Buddha celebrate simplicity both in thought and action: PM @narendramodi

Let me begin by conveying my greetings on Ashadha Poornima.

It is also known as Guru Purnima.

This is a day to remember our Gurus, who gave us knowledge.

In that spirit, we pay homage to
Lord Buddha: PM @narendramodi addressing the Dharma Chakra Diwas function

PM @narendramodi has sanctioned ex-gratia of Rs. 2 lakh each for next of kin of persons who lost their lives due to floods in Assam, from PMNRF.

फिर से एक बार मैं आप सब से प्रार्थना करता हूँ, आपके लिए भी प्रार्थना करता हूँ, आपसे आग्रह भी करता हूँ , आप सभी स्वस्थ रहिए, दो गज की दूरी का पालन करते रहिए, गमछा , फेस कवर, मास्क ये हमेशा उपयोग कीजिये, कोई लापरवाही मत बरतिए: PM @narendramodi

हम सारी एहतियात बरतते हुए Economic Activities को और आगे बढ़ाएंगे। हम आत्मनिर्भर भारत के लिए दिन रात एक करेंगे। हम सब ‘लोकल के लिए वोकल’ होंगे। इसी संकल्प के साथ हम 130 करोड़ देशवासियों को मिलजुल कर के, संकल्प के साथ काम भी करना है, आगे भी बढ़ना है: PM @narendramodi

आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपना दायित्व निभाया है, इसलिए आज देश का गरीब, इतने बड़े संकट से मुकाबला कर पा रहा है।मैं आज हर गरीब के साथ ही, देश के हर किसान, हर टैक्सपेयर का ह्रदय से बहुत बहुत अभिनंदन करता हूं, उन्हें नमन करता हूं: PM @narendramodi

आज गरीब को, ज़रूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है। पहला- हमारे देश के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता। और दूसरा- हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर: PM @narendramodi

अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड ‘one nation one ration card’। इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं: PM @narendramodi

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है: PM @narendramodi

त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए: PM @narendramodi

साथियों, हमारे यहां वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है। अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है। जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है: PM @narendramodi

Load More...

Will be addressing the India Global Week, organised by @IndiaIncorp at 1:30 PM tomorrow. This forum brings together global thought leaders and captains of industry, who will discuss aspects relating to opportunities in India as well as the global economic revival post-COVID.

कोविड महामारी के दौरान वाराणसी के नागरिकों और सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों ने पूरे समर्पण भाव से न केवल जरूरतमंदों की मदद की, बल्कि स्थानीय प्रशासन को भी हर प्रकार की सहायता दी। अपने संसदीय क्षेत्र के इन लोगों से कल सुबह 11 बजे होने वाले संवाद को लेकर बेहद उत्सुक हूं।

I bow to Dr. Syama Prasad Mookerjee on his Jayanti. A devout patriot, he made exemplary contributions towards India’s development. He made courageous efforts to further India’s unity. His thoughts and ideals give strength to millions across the nation.

देशवासियों को गुरु पूर्णिमा की ढेरों शुभकामनाएं। जीवन को सार्थक बनाने वाले गुरुओं के प्रति सम्मान प्रकट करने का आज विशेष दिन है। इस अवसर पर सभी गुरुजनों को मेरा सादर नमन।

Best wishes to my senior Cabinet colleague Shri @irvpaswan Ji. Paswan Ji’s administrative experience and insight on key policy issues are a major asset for our Government. His contribution towards social justice is immense. Praying for his long and healthy life.

भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने साथ सात ‘स’ की शक्ति लेकर आगे बढ़ना चाहिए।
ये हैं-
पहला- सेवाभाव,
दूसरा- संतुलन,
तीसरा- संयम,
चौथा- समन्वय,
पांचवां- सकारात्मकता,
छठा- सद्भावना
और सातवां- संवाद।

हम चाहे कार्यकर्ता की भूमिका में हों या सरकार में, वास्तव में हम देश की और गरीबों की सेवा का माध्यम ही हैं।

यह सरकार छह सालों से इसी विचार के साथ काम कर रही है और फैसले ले रही है।

कोरोना के इस संकट काल में समाज ने आपको स्नेह दिया है, विश्वास दिया है।

आप किसी गरीब की मदद कर सकें, इसके लिए समाज ने आपको साधन दिए हैं।

यही वो स्नेह है, वो ऊर्जा है, जिसकी ताकत ने आपको थकने नहीं दिया। हमें इस ऊर्जा को और समाज की इस शक्ति को समझना चाहिए।

हमारे लिए हमारे संगठन का मतलब है- सेवा, सबका संग, सबका साथ, सबका सुख, सबकी समृद्धि।

हमारा संगठन समाज हित के लिए काम करने वाला है, संघर्ष करने वाला है, समाज और देश के लिए खप जाने वाला है।

हमारे लिए हमेशा ‘Nation First’ रहा है।

हम लोगों ने राजनीति में सत्ता को सेवा का माध्यम माना, हमने कभी भी सत्ता को अपने लाभ का माध्यम नहीं बनाया।

निःस्वार्थ सेवा ही हमारा संकल्प और संस्कार रहा है।

India is placing great importance to education in the agricultural sector that benefits the farmers. India is proud of its traditional agro knowledge and will complement it with latest technology to ensure a boost to the income of farmers.

Other aspects relating to ICAR which we discussed included research on indigenous breeds of dogs and horses, mission mode approach for vaccination to cure Foot and Mouth disease, study of grasses and local fodder crops and ensuring easy access to farm equipment.

Emphasised on the need to spread awareness on including millets such as Jowar, Bajra and Ragi as a part of people’s diet. Also emphasised on ensuring extensive awareness programmes on water use efficiency and water conservation.

India is working towards increased organic farming as well as farming on a cluster based approach. Efforts are also ongoing to encourage start-ups related to agriculture, especially ones that encourage usage of latest technology in the sector.

Commendable work has happened in developing varieties that cater to specific requirements of agro-climatic zones. Various varieties have also been developed that will further our endeavour of a nation free from the menace of malnutrition.

Load More...